click here
ताजा खबर

कुछ इस तरह यूपी को फतह करने की तैयारी में है भाजपा

12_01_2017-upbjpofficeनई दिल्ली( जेएनएन)। देश के सबसे बड़े सूबे यूपी के लिए 11 मार्च का दिन बेहद अहम है। वो दिन किसी के खेमें में खुशी देगा, तो किसी खेमें को 2022 के लिए चुनावी तैयारी का संदेश देगा। यूपी में क्या एक बार फिर साइकिल सरपट दौड़ेगी या बसपा के हाथ में यूपी की बागडोर होगी, या 14 साल से वनवास झेल रही भाजपा में लोग भरोसा जताएंगे। ये कुछ ऐसे सवाल हैं जिनका इंतजार बेसब्री से हर किसी को है। लेकिन यूपी में सत्ता पर काबिज होने के लिए भाजपा जोरशोर से तैयारी कर रही है।

परिवर्तन रैली से भाजपा में उत्साह

परिवर्तन रैली और पीएम नरेंद्र मोदी की रैलियों के बाद भाजपा रणनीतिकार खासे उत्साहित हैं। उनका मानना है कि इस बार प्रदेश में माहौल पार्टी के पक्ष में है, लिहाजा जनमत को मतदानकेंद्रों तक पहुंचा कर उन्हें वोटों में तब्दील कराने की जरूरत है। यूपी में कामयाबी की इबारत लिखने के लिए भाजपा आइआइटी से पढ़े लोगों की मदद ले रही है।

पीएम के जरिए मतदाताओं को लुभाने की तैयारी

पार्टी की रणनीतियों में पीएम मोदी के 10 मेगा रैली कराने की है। इसके अलावा प्रदेश भाजपा मुख्यालय में पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के निर्देशन में आइआइटी के तकनीकी लोगों की टीम लगातार सोशल मीडिया पर काम कर रही है। ह्वाट्स एप के जरिए एक साथ 12 लाख लोगों तक एक साथ पहुंचने की योजना पर काम चल रहा है।भाजपा के चुनाव संचालकों का कहना है कि वीडियो वैन के जरिए हर गतिविधियों पर लगातार निगरानी की जा रही है।

अब तक 30 लाख लोगों से सीधा संपर्क

फोर ह्वीलर और टू ह्वीलर के जरिए अब तक 30 लाख लोगों तक संपर्क स्थापित किया गया है। रणनीतिकारों का कहना है कि इस बात की कोशिश की जा रही है कि सात चरणों में होने वाले हर चरण में पीएम की कम से कम एक रैली हो सके। इसके अलावा कुछ चरणों में पीएम की एक से ज्यादा रैली भी हो सकती है। अलीगढ़ या मुजफ्फरनगर में इस महीने के अंत में पीएम की रैली हो सकती है।

 

भाजपा घोषणापत्र में आम लोगों की राय

400 वीडियो वैन , 1650 मोटरबाइक के जरिए भाजपा के पक्ष में जनमत बनाने की तैयारी चल रही है। इसके अलावा 20 लाख पोस्टकार्ड के जरिए उन लोगों की राय जानने की कोशिश की गई है, जो भाजपा की नीतियों से प्रभावित हैं। उन लोगों के विचारों का विश्लेषण करने के बाद उन्हें घोषणापत्र में शामिल किया जाएगा। रणनीतिकारों का कहना है कि फेसबुक पेज पर भाजपा को पसंद करने वालों की संख्या करीब डेढ़ करोड़ हो चुकी है।

‘माटी तिलक प्रतिज्ञा’ का आयोजन

यूपी आइटी सेल के अध्यक्ष का कहना है कि आधुनिक तरीकों के साथ-साथ पारंपरिक प्रचार पद्धति को पूरी तरह से अपनाया जाएगा। पार्टी शुक्रवार को राज्य के 75 जगहों पर माटी तिलक प्रतिज्ञा आयोजित करेगी जिसमें हर एक जगह पर करीब पांच हजार किसानों के जुटने की उम्मीद है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *